दोस्त के बर्थडे में अकेली लड़की पल्लवी की चुत सभी दोस्तों ने चोदी – उसके मना करने पर भी उसको चिल्ला चिल्ला के चोद डाला

दोस्त के बर्थडे में अकेली लड़की पल्लवी की चुत सभी दोस्तों ने चोदी – उसके मना करने पर भी उसको चिल्ला चिल्ला के चोद डाला

यह बात कुछ दिन पहले की है, पल्लवी सैटरडे नाइट को ऑफिस से आई और तभी उत्कर्ष ने पल्लवी को एक पैकेट थमाया और कहा तुम्हारे लिए गिफ्ट है, रमन ने भेजा है.

फिर मैंने कहा जल्दी से तैयार होकर आ जाओ, चलते हैं. वह अंदर रूम में गई और मुझे आवाज़ लगाई, मैं वहां पहुंचा तो वह मुझे पैकेट खोल कर दिखाई, और कहा यह क्या है? तभी उत्कर्ष पीछे से आकर बोला यह रमन ने भेजा है प्यार से तुम्हारे लिए.

उसमें एक जोड़ी रेड ब्रा और पैंटी थे और एक रेड साड़ी थी, पल्लवी ने कहा कि यह मैं कैसे पहनु? इसमें ना ब्लाउज है ना पेटीकोट? फिर मैंने कहा की कोई बात नहीं, कार से ले जाएंगे, तू टेंशन ना ले. और हम उसे रूम में अकेला छोड़कर ड्राइंग रूम में आ गए.

कुछ देर बाद पल्लवी रूम से तैयार होकर बाहर आई जो हमने देखा हमारी तो हालत खराब हो गई, वह पल्लू छोड़कर साड़ी पहनी हुई थी, और सिर्फ रेड ब्रा और पैंटी के साथ साड़ी थोड़ा ट्रांसपरेंट होने के कारण उसका ब्रा और पैंटी साफ नजर आ रहे थे और सिर्फ ब्रा के कारण उसकी बेक पूरी खुली थी और सिर्फ ब्रा स्ट्रेप ही थे.

उसके बूब्स मानों जैसे ब्रा में आ नहीं पा रहे थे, और ऊपर और साइड से हल्का बाहर निकले हुए थे, जब वह चल रही थी उसकी भारी भरकम बूब्स लेफ्ट राइट हिल रहे थे मानो जैसे ब्रा से बाहर निकल जाएंगे.

होठों पर उसने मैचिंग कलर की लिपस्टिक लगा रखी थी, और हाथो में मैचिंग रेड बैंगल्स.. मानो जैसे स्वर्ग से कोई लाल परी 44 के बुब्स, 38 की कमर और 42 की गांड लेकर चल के आ रही हो. हम तो मानो हील गए थे, वह एक लाल कलर के स्टॉल भी ले रखी थी, जिसे ओढ़ते हुए वह बोली, चले कहां चलना है?Desi sex stories, desi sex story, Hindi Sex Stories, hindi sex story

हम खुले मुंह से सर हीलाते कहे हां चलो.

फिर हम बेसमेंट पर गए और कार लेकर रमन के अपार्टमेंट में पहुंच गए, वहां बेसमेंट में कार पार्क कर के हम लिफ्ट में उस के फ्लैट में गए, रात के ११:५० हो रहे थे, और १२ बजे सेलिब्रेशन करनी थी, जैसे ही दरवाजा खोला तो अंदर ऑलरेडी रमन के साथ देव भी था.

दरवाजे पर पल्लवी को देख के वह जैसे हैरान हो गया, तभी उत्कर्ष बोल पड़ा अरे यह तो कुछ नहीं अंदर असली माल है, इतना कहकर वह पल्लवी की गांड पर थपथपाया और हम अंदर चले गए, अंदर घुसते ही देव और उत्कर्ष – रमन आ जा तेरा गिफ्ट ले आये है.

रमन बाहर आकर – ववाऊ पल्लवी, और आगे आकर उसे हग करने लगा.

उत्कर्ष – रूक.

पल्लवी की शक्ल थोड़ा एम्बरास लग रही थी लेकिन फिर भी उसकी शक्ल पर एक साइलेंट सी स्माइल थी, मानो जैसे वह अपने आप को रमन का गिफ्ट मान ली थी, वह बहुत ही एक्साइटेड थी.

Hot Story >>  चूत की कहानी उसी की ज़ुबानी-3

उत्कर्ष पल्लवी की स्टाल हटाते हुए – रमन को -ले अब हग कर ले.

रमन यह देख चौंक गया और उसके मुंह से यह निकला.

रमन – वहां क्या माल है याहह, थैंक्स अलॉट फॉर गिफ्ट. कहकर वह पल्लवी को हग किया और पल्लवी ने भी उसे हग किया.

फिर सब केक काटने लगे.

केक काटने के बाद रमन अपना लंड बाहर निकाला है जो कि खड़ा हो चुका था, उस पर उसने केक की क्रीम लगाई और पल्लवी को कहा लो, पल्लवी टेस्ट करो केक.. पल्लवी स्माइल देते हुए जब नीचे झुकी तब देव ने पल्लवी की ब्रा का हुक खोल पल्लवी और पल्लवी की ब्रा नीचे गिर गई, वह अपने स्तन छुपाने की कोशिश की, लेकिन रमन ने पल्लवी के हाथ पकड़ कर कहा रहने दो पल्लवी, यह अच्छे लग रहे हैं. तूम बस केक टेस्ट करो.

फिर पल्लवी अपने ब्रा को इग्नोर करके रमन के लंड पर लगे क्रीम को चाटने लगी थोड़ी देर में ही रमन पल्लवी को खड़ा करके म्यूजिक पर डांस करने लगा और हम लोग उसके साथ डांस करते वक्त डांस कम और उसके बूब्स को ज्यादा दबा रहे थे.

पल्लवी की शक्ल मानो एक्साइटमेंट से भर रही थी और वह अपने आप को जैसे सब को सरेंडर कर दी थी, सब अपने फोन से पल्लवी के साथ सेल्फी ले रहे थे, तभी देव ने पल्लवी की साड़ी उतार दी और पल्लवी सिर्फ पेंटी में थी, पल्लवी ने कोई अपोज़ नहीं किया और पैंटी में ही सबके साथ डांस करने लगी.

फिर उत्कर्ष ने कहा यार इसकी पैंटी भी उतार दो, फिर उत्कर्ष ने उसकी पैंटी भी खोल पल्लवी. पल्लवी अब पूरी नंगी थी. बड़े बड़े बोबे और गांड लाइट कॉफी कलर के उसके निपल मानो जैसे सब म्यूजिक के साथ खेल रहे थे.

तभी देव बोला अरे जिसका गिफ्ट है पहले उसे इंजॉय करने दो, कह के पल्लवी को रमन के पास कर पल्लवी, रमन पल्लवी को नंगा लेकर बेड रूम में चला गया और दरवाजा बंद कर पल्लवी, आवाज बाहर आ रही थी पल्लवी की और हम उस आवाज से बाहर अपने लंड खोलकर हीला रहे थे. दोस्तों आप ये कहानी अन्तर्वासना – स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है ।

तभी देव एक हनी का बोतल ले कर आया और बोला यारों यह लो अपना लंड मीठा करो.

मैंने पूछा – यह क्या है?

देव – तेरी बहन को सुना है मीठा खाना बहुत पसंद है, आज उसे मीठा लंड चूसवाते हैं.

उत्कर्ष – भाई हनी लंड तो उसे बहुत पसंद है.

मैं यह सोच रहा था कि उत्कर्ष उसे कब अपने लंड में हनी लगा के चुसवाया और मुझे पता नहीं.

फिर हम तीनों अपने लंड में हनी मसाज करने लगे.

देव – यह रमन साला एक शॉट में ही सो जाएगा, बस पल्लवी बाहर आ जाए.

थोड़ी देर में पल्लवी दरवाजा खोलकर एक हाथ में अपने बूब्स और दूसरे में अपनी चूत छुपा कर बाहर निकली.

देव – हो गया ना साले का, पता था आ जाओ यहां.

Hot Story >>  माकन मालिक आंटी रोज चुत में ऊँगली डालके hilati थी में छूपके देखता - एक दिन मेरा पूरा लंड गुसा दिया

उत्कर्ष – अरे पल्लवी हाथ हटाकर सीधे चल कर आ जाओ, हम से क्या शरमाना? तुम्हारे बदन का हर कोना से हम वाकिफ है.

देव – आजाओ पल्लवी मेरी जान तुम्हारे लिए स्वीट कॉक रेडी है.

पल्लवी थोड़ी कंफर्टेबल होकर नंगी चलते हुए आगे बढ़ी और मुस्कुराते हुए पूछा यह क्या तुम लोगों ने हनि लगा रखा है..

देव – स्वीट डिश हे बेबी स्पेशली तुम्हारे लिए.

पल्लवी – वाऊ.

आगे बढ़ी और एक हाथ में मेरा और दूसरे हाथ में देव का लंड लेकर चूसना शुरू कर पल्लवी और बोली.

पल्लवी – वाह यह तो अवेसम स्वीट डिश है.

उत्कर्ष – वह बेटा पहले भाई का चुन लिया और मुझे छोड़ पल्लवी.

पल्लवी – उत्कर्ष भैया, तुम्हारे लिए वाटरमेलन है ना..

उत्कर्ष – सही है फिर.

पल्लवी हमारी चुस्ती रही और तभी उत्कर्ष हनी लेकर पल्लवी के बूब्स पर मसाज करने लगा, पल्लवी के पूरे बूब्स हनी से भीगे हुए थे और फिर वह नीचे से पल्लवी के हनी से लिपटे बूब्स को चाटने और चूसने लगा, पल्लवी सिसकियां देते हुए हमारे लंड को चूस रही थी तभी देव

देव – आ जा उत्कर्ष तू अपना स्वीट डिश भी इसे टेस्ट करा दें, मैं जरा इसकी गहराई नाप लूं.

उत्कर्ष आगे आ कर अपना लंड चूसने लगा और देव पीछे से जाकर अचानक से अपना मोटा लंड जया की चूत में डाल पल्लवी.

पल्लवी – आह भैया..

देव कुछ बिना सुने भुक्कड़ की तरह पल्लवी को चोदने लगा और पल्लवी की आवाज बढ़ने लगी, यह मुझसे सहा नहीं गया. फिर मैं भी जा कर पीछे खड़ा हो गया और देव को पोजीशन चेंज करने को कहा. अब मैं नीचे लेट कर पल्लवी को अपने लंड पर बिठा पल्लवी और उसके चूत में अपना लंड डाल पल्लवी, तभी देव पल्लवी की गांड में अपना लंड डाल पल्लवी, हम दोनों एक साथ पल्लवी को धक्का मारना शुरू किए.

पल्लवी चिल्लाते हुए आवाज तेज करने लगी और मुझे किस लेने लगी, साथ ही साथ उत्कर्ष का लंड चूस रही थी. एक साथ धक्के के कारण पल्लवी के बड़े-बड़े बूबे आगे-पीछे जोर से हिल रहे थे और मेरे से रगड रहे थे.

फिर थोड़ी देर में देव का निकल गया और वह पीछे बैठ गया और उत्कर्ष देव के पोजीशन में जाकर पल्लवी की गांड में डालने लगा, थोड़ी ही देर में मेरा हो गया और उत्कर्ष और पल्लवी का चलता रहा, पल्लवी भी थकी हुई लगने लगी और फिर उत्कर्ष का भी हो गया फिर हम तीन और पल्लवी नंगे वही सोफे और कारपेट पर लेट गए और पता नहीं कब आंख लग गई.

रात करीब ३ बजे मुझे और उत्कर्ष को देव आ के उठाया और कहां देख क्या मस्त लग रही हे पल्लवी नंगी लेटी हुई.. वह ऊपर की तरफ मुंह करके लेटी हुई थी, उसके बड़े बड़े बोबे जैसे पहाड़ की तरह उठे हुए थे, सांस लेते वक्त उसके बूबे जैसे हील रहे थे वह देख हमारा लंड फिर से खड़ा हो गया.

देव – यार चलो एडवेंचर करते हैं.

मैं – क्या?

Hot Story >>  Gudiya Baji ki gangbang - Sex Stories

देव – इसे बेसमेंट में नंगा लेकर चलते हैं और वहीं एक राउंड चोदते हैं.

यह सुनकर मैं और उत्कर्ष और एक्साईट हो गए.

उत्कर्ष पल्लवी के पास जाकर उसको उठाया और कहा पल्लवी डार्लिंग चलो एडवेंचर करते हैं.

पल्लवी – क्या?

देव चल बेसमेंट में चलते हैं, एक शॉट वहां भी बनता है.

पल्लवी यह सुनकर और एक्साईट हो गई और साडी उठाने लगी तब उत्कर्ष – यह क्या कर रही हो?

पल्लवी – साड़ी ले लू.

देव – बाहर कोई नहीं है, नंगी चलना है तुम्हें.

पल्लवी थोड़ी एक्साइटेड लेकिन डरे हुए आवाज से – पागल हो तुम?

मैं – टेंशन मत ले तेरी साड़ी लेके चलेंगे जरूरत पड़े तो लपेट लेना.

इतने में पल्लवी मान गई और नंगा जाने के लिए राजी हो गई.

पल्लवी को हम नंगा लेकर लिफ्ट में गए और बेसमेंट में पहुंच गए, बेसमेंट में कोई नहीं था, और फिर हम लोग बिना लेट के लिए पल्लवी को कार के बोनट पर लेटा के एक के बाद एक चोदने लगे और पल्लवी फिर मजे में झूमने लगी, पर इस बार आवाज कम कर रही थी कि कोई सुन ना ले. दोस्तों आप ये कहानी अन्तर्वासना – स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है ।

फिर सब का जब हो गया पल्लवी को नंगा वापस लेकर फ्लैट में चले गए और फिर सब वापस नंगा सो गये, सब सुबह पहले उठ गए थे पर पल्लवी की नींद लास्ट में खुली. और तब हम सब सोफे पर कॉफी पी रहे थे, पल्लवी बस एक चादर ओढ़ के सो रही थी, उठते ही वह अपनी बॉडी से चादर हटाई और नंगी सोफे पर बैठ गई.

रमन – क्या बात है यह तो बड़ी फ्रेंक को हो गई है एक रात में.

पल्लवी – कुछ बाकी के अभी??

देव – अगली बार तुम्हें नंगी ड्राइव पर लेकर चलेंगे, हांहाहाहा.

प्रिया वाशरुम गई फ्रेश होने लगी और टावेल लपेटकर बाहर आई, तभी रमन पल्लवी को एक पैकेट देते हुए यह लो डार्लिंग हमारी तरफ से तुम्हारे लिए गिफ्ट, जाओ पहन के आ जाओ.

पल्लवी पैकेट लेकर अंदर जा रही थी फिर वापस आकर.

पल्लवी – अंदर क्यों यहीं चेंज करने में कोई प्रॉब्लम?? कहकर अपनी टॉवेल उतार के नंगी खड़ी हो गई और पैकेट से मिनी स्कर्ट और टॉप निकाली और साथ में एक पैर ब्लू ब्रा और पेंटी लेकर वहीं सबके सामने पहन ली.. सब को किस करते हुए पल्लवी थैंक्यू बोली, और फिर हम अपने फ्लैट के लिए निकल गए. और देव को कह गई नंगी ड्राइव के लिए इंतजार कर रही हूँ.

#दसत #क #बरथड #म #अकल #लड़क #पललव #क #चत #सभ #दसत #न #चद #उसक #मन #करन #पर #भ #उसक #चलल #चलल #क #चद #डल

दोस्त के बर्थडे में अकेली लड़की पल्लवी की चुत सभी दोस्तों ने चोदी – उसके मना करने पर भी उसको चिल्ला चिल्ला के चोद डाला

Leave a Comment

Open chat
Secret Call Boy service
Call boy friendship ❤
Hello
Here we provide Secret Call Boys Service & Friendship Service ❤
Only For Females & ©couples 😍
Feel free to contact us🔥
Do Whatsapp Now