पति देखता रहा और मैं भैया से चुदती रही

पति के सामने पत्नी की चुदाई की कहानी, Desistories.com/%e0%a4%ac%e0%a4%b9%e0%a4%a8-%e0%a4%ac%e0%a4%a8%e0%a5%80-%e0%a4%b8%e0%a5%87%e0%a4%95%e0%a5%8d%e0%a4%b8-%e0%a4%97%e0%a5%81%e0%a4%b2%e0%a4%be%e0%a4%ae-8-bro-sis-sex-story/">Brother Sister Sex, Pati ke samne gAir mard se sex kahani, : दोस्तों मेरा नाम पल्लवी है मैं चंडीगढ़ में रहती हूँ। मेरी शादी हुए अभी मात्र छह महीने ही हुए है। हम दोनों ही सरकारी नौकरी में इंजीनियर हैं। खूब पैसे हैं अच्छा जॉब है। पर एक जो नहीं है वो है सेक्स का सुख। पर मैं एक दिन अपनी वासना को पति के सामने ही भैया से चुद कर चूत की गर्मी शांत कर ली. आज मैं आपको अपनी कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर सूना रही हूँ। ये मेरी पहली कहानी है इस वेबसाइट पर पर इस वेबसाइट की मैं बहुत बड़ी फैंन हूँ। रोजाना गरमा गर्म सेक्स कहानियां पढ़कर ही मैं सोती हूँ या चुदती हूँ .अब मैं सीधे कहानी पर आती हूँ।

मेरी पोस्ट मेरे पति से ज्यादा है और मेरी सैलरी ही पति से ज्यादा है। सुन्दर भी हूँ हॉट और सेक्सी हूँ। मैं शहर की लड़की हूँ और मेरा पति एक छोटे से शहर से आता है। नौकरी तो पढ़ लिख कर उसे मिल गयी। पर रहन सहन का स्तर उतना अच्छा नहीं है। आपको तो पता है आजकल सरकारी नौकरी के चक्कर में ऐसी शादियां हो रही है। इसमें या तो लड़के की ज़िंदगी ख़राब हो रही है या लड़के।

सिर्फ सरकारी नौकरी सब कुछ पूरा नहीं कर सकता है। जोड़ी अच्छी होने चाहिए। पर ये गलतियां हो जाती है अकसर ऐसी शादी में। और इसका सीधा असर शादी शुदा जीवन पर पड़ता है। आज मैं आपको कहानी सुनाकर बता रही हूँ की आखिर ये गलतियां कहाँ होती है और क्या वजह है। और मैं कैसे अपने पति के सामने ही अपनी चूत में अपने भाई का लंड लेती हूँ और मेरा पति डर से कुछ कहता भी नहीं। क्यों की उसे पता है मैं उससे छोड़कर चली जाउंगी। अब मैं सीधे कहानी पर आती हूँ।

पति से संबंध अच्छे नहीं रहने की वजह से हम दोनों के बीच सेक्स संबंध बहुत कम ही होता रहा।  मेरा पति देखने में काफी काला है और मैं बहुत गोरी हूँ।  जैसी मैं हूं वैसा वह नहीं है इस वजह से हम दोनों के बीच संबंध धीरे-धीरे खराब होने लगे।  अक्सर महिलाएं ऐसे समय में दूसरे पुरुष के प्रति आकर्षित हो जाते हैं और पति पत्नी के रिश्ते खत्म हो जाते हैं।  मेरा तो कोई बेबी भी नहीं है।  इस वजह से मैं परेशान रहने लगी कि मेरा क्या होगा आगे जाकर मेरा पति मुझे चोद भी नहीं सकता है। 

 धीरे धीरे में गालियां देने लगे गुस्सा करने लगी और पति चुपचाप रहता था क्योंकि उसे पता था कि गलती उसकी है जब वह मुझे खुश नहीं करेगा तो मैं तो गालियां दूंगी।  पर एक दिन सब उल्टा पुल्टा हो गया मैं अपने चचेरे भाई से उसके सामने ही चुद गई और वह चुपचाप देखता ही रह गया और लगातार 10 दिन तक उसके सामने संबंध बनाते रही पर उसने मुझे कुछ नहीं बोला शायद उसे भी लगा कि अच्छा ही हो रहा है। 

1 दिन की बात है मेरा चचेरा भाई राकेश चंडीगढ़ आया था।  घर में मैं पति पत्नी थी उस दिन शनिवार का दिन था। शाम को पार्टी का प्लान बना, और मेरे पति और मेरा भाई दोनों मार्केट जा कर पार्टी करने के लिए खाने पीने का सामान और दो बोतल व्हिस्की लेकर आ गए। 

 मैं कॉरपोरेट में काम करती हूं सॉफ्टवेयर कंपनी में इंजीनियर हूं तो मैं वहां पर पीना सीख गई और अक्सर पार्टी में मैं शराब पीती हूँ।  धीरे धीरे मुझे इसकी लत भी लग गई पर रोजाना नहीं पीती शनिवार रविवार को मैं जरूर देते हो पीती हूँ।  शाम को पार्टी शुरू हो गई खाना खाते गए दारू पीते गए धीरे-धीरे बात आगे बढ़ गई और बात सेक्स तक आ गई।  बातचीत सेक्स करने लगे तो मैं साफ-साफ बोल दे कि मेरा पति मुझे खुश नहीं कर पाता है।  तभी मेरा पति बोल दिया कि मैंने कब मना किया तुमको अगर मैं खुश नहीं कर पाता हूं तो तुम किसी और से भी सेक्स संबंध बना सकती हो मैं मना नहीं करूंग। 

 यह सुनकर मैं बोल दे तो क्या मैं अपने भाई से सेक्स संबंध बना लो उन्होंने कहा बना लो मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता सच तो बात की है दोस्तों कि जब मेरी शादी नहीं हुई थी और जब मैं छोटी उम्र की थी तब मैंने अपने इस भाई से सेक्स संबंध बनाई थी उसने मुझे खूब चोदा था और मैं खूब मजे ले ली थी छत पर। 

 तो मैं बोल दे फिर देख लेना तुम आगे कुछ मत बोलना। मेरा पति भी यही बोला कि ठीक है मैं कुछ नहीं बोलूंगा तुम्हारी जो मर्जी है करो मैं तुम्हारी मर्जी में कभी में दखल अंदाजी नहीं करूंगा।  इतना कहते ही मैं मचल गई क्योंकि मैं दारु के नशे में थी शराब ज्यादा पी ली थी मेरा भाई भी ज्यादा पी लिया था और मेरा पति भी ज्यादा पी ली।   इतने में ही मेरा पति सोफे पर लेट गया और धीरे-धीरे उसकी आंख लग गई क्योंकि वह ज्यादा पी लिया था मैं उठी और बस अपना टॉप निकाली और अपने भाई के गोद में बैठ गयी। 

उसने तुरंत है मेरी ब्रा को खोल दिया और मैं अपने पजामे को उतार दी। अब हम दोनों वाइल्ड होकर एक दूसरे को चूमने लगे किस करने लगे हैं।  मेरा भाई मेरी चुचियों को दबाने लगा मेरे होंठ को चूसने लगा मेरे गाल पर अपने दांत काटने लगा मेरा गर्दन को किस करने। 

 मैं पागल होने लगी दोस्तों क्योंकि जब वह अपने दोनों हाथों से मेरी दोनों चुचियों को मसल रहा था तो मेरी चूत से पानी निकलना शुरू हो गया था।  मैं कामुकता की हद को पार कर गई थी मेरे पास नाउ भड़क उठी थी मेरे अंतर्वासना भड़क उठे थे अब मुझे बस अपने भाई के लंबे लंड का इंतजार था। 

 मैं तुरंत ही उसके जांगिया से लंड बाहर निकाल ले और तुरंत ही चूसने लगी मेरा भाई लेट गया और मैं उसके लंड को चूसने लगी।   वह मेरे चुचियों को सहला रहा था और आह आह आह की आवाज निकाल रहा था।  मैं आइसक्रीम की तरह उसकी मोटे लंड को चूस रही थी। 

 मेरा भाई बहुत ज्यादा ही सेक्सी और काम हो गया उसने मुझे नीचे पटक दिया और मेरे दोनों पैरों को अलग-अलग करके मेरी चूत को चाटने लगा।  दोनों चूचियों को मसलते हुए जब मेरी चूत को चाटते तो मैं पानी पानी होने लगी ऐसा लगता था मेरे पूरे शरीर में करंट आ गया।  तेरा पति जाग गया वह देखने लगा कि हम दोनों क्या कर रहे हैं  पर उसने मुझे कुछ बोला नहीं ना तो मेरे भाई को बोला वह बैठकर हम दोनों को देखने लगा। 

 तभी मेरा भाई मेरे दोनों पैरों को अलग अलग किया और अपना मोटा लंड मेरी चूत पर लगाया और जोर से अंदर घुसा दिया।  मैं ओह्ह्ह्ह ओह्ह्ह आह्ह्ह्ह  करने लगी और धक्के पर धक्के देने लगा मेरी चूचियों को मसल था और धक्के देता अपना मोटा लंड मेरी चूत में जोर जोर से घुसाने लगा। 

 मैं भी अपना गांड उठा उठा कर अपने भाई से चुदवाने लगी  अपने पति की तरफ जब मैं निहारते थी तो वह चुपचाप देख रहा था और मैं अपना गांड उठा उठा कर चुदवाने लगे दोस्तों बहुत मजा आ रहा था मैं अपने भाई को अपनी बाहों में भर ले अपनी चुचियों को उसके मुंह में डाल दी ताकि वह सके वह मेरी सूचियों को चूसते हुए मेरे गांड में उंगली करने लगा और जोर-जोर से अपने मोटे लंड को मेरे चूत के अंदर पेलने लगा। 

 फिर वह अलग अलग तरीके से मुझे चोदने लगा कभी ऊपर से चोदता कभी वह बैठकर चोदता कभी वह साइड होकर चोदता कभी गांड  के पीछे से चोदता।  जो जो कर रहा था उसे मैं बहुत खुश थी क्योंकि उसका मोटा लंड मेरी गांड के एकबिच में एक  पतली सी दरार में जब  अंदर बाहर निकल रहा था तो मेरे पूरे शरीर में करंट दौड़ था और मेरे मुंह से आवाज निकल रही थी जो काफी कामुकता से भरी थी। 

 इस तरह से मेरा भाई करीब 2 घंटे तक मुझे चोदा हम तीनों ही नशे में थे हम दोनों एक दूसरे को खुश कर रहे थे और मेरा पति चुपचाप वहां बैठकर देख रहा था।  आखिरकार उसने अपना पूरा माल मेरी चूत के अंदर डाल दिया।  हम दोनों शांत हो गए और  हम तीनों ही वही पर सो गए।  सुबह जब उठे तो मेरा पति मुझे देख कर कह रहा था कि रात को तो तुमने अपनी वासना शांत कर ली मैं भी हंस कर बोल दी हां।  तुमने ही तो बोला था चुदवाने। 

#पत #दखत #रह #और #म #भय #स #चदत #रह

पति देखता रहा और मैं भैया से चुदती रही

Return back to Adult sex stories, Desi Chudai sex stories, hindi Sex Stories, Indian sex stories, रिश्तों में चुदाई, हिंदी सेक्स स्टोरी

Return back to Home

Leave a Reply