बहन चुदवाकर लंड की दीवानी बन गई

Indiandesistories.com/poornimas-sexual-lust-journey-in-india/">Indiandesistories.com/1-0-meri-sex-ki-duniya-main-entry/">entry-content">

हैल्लो दोस्तों, मेरी यह पहली कहानी है और में आशा करता हूँ कि आप लोगों को मेरी यह कहानी बहुत पसंद आएगी. मेरा नाम आरव है और मेरा रंग बहुत गोरा है और में बहुत सुन्दर हूँ. में 29 साल का हूँ और मेरी हाईट 6 फीट है.

दोस्तों मेरे घर में मम्मी, पापा, में और मेरी छोटी बहन है. मेरे पापा बैंक में नौकरी करते है और मेरी मम्मी हाउस वाईफ है और मेरी बहन का नाम पूजा है, वो 18 साल की है और 12वीं क्लास में पढ़ रही है, वो दिखने में बहुत ही सुंदर है और उसका फिगर साईज 38-26-28 है और उसके बूब्स बहुत मस्त है.

दोस्तों यह बात उन दिनों की है, जब में 12वीं क्लास में पढाई कर रहा था. फिर एक दिन में स्कूल से घर आया तो मेरे घर पर मेरी बहन के अलावा कोई नहीं था. फिर मैंने उससे पूछा कि सब कहाँ गये है? तो उसने कहा कि मामा के यहाँ से फोन आया था और मामा का एक्सीडेंट हो गया है, तो पापा मम्मी दोनों उन्हें देखने गये है.

मैंने उससे पूछा कि मम्मी खाना बनाकर गई है या नहीं? तो उसने कहा कि हाँ बना दिया है. फिर मैंने उससे पूछा कि तुमने खाना खा लिया क्या? तो उसने कहा कि नहीं अभी नहीं खाया है, तो मैंने कहा कि चलो खा लेते है. अब खाना खाते वक़्त मैंने टी.वी चला ली और मूवी चलाकर देखने लगा, उस पर एक गर्मागर्म सीन आ रहा था.

में आपको एक बात और बता दूँ कि हमारे घर में एकदम खुला माहौल है और अब वो सीन देखकर मेरा लंड एकदम खड़ा हो गया था और मेरी पैंट में से बाहर आने की कोशिश करने लगा था.

फिर हम जैसे ही खाना खाकर उठे तो मेरी बहन ने मेरी पैंट में से उभरा हुआ लंड देख लिया और थोड़ी देर तक देखती रही. फिर मैंने उससे कहा कि क्या हुआ? क्या देख रही हो? तो वो शर्मा गई और किचन में चली गई. फिर रात को जब सोने का टाईम आया तो मैंने कहा कि आज घर में कोई नहीं है तो हम एक बेड पर ही सो जाते है तो उसने हाँ कर दी. में रात को लुंगी पहनकर सोता था.

फिर रात को 2-3 बजे मुझे ऐसा लगा जैसे कोई मेरी लुंगी में हाथ डालकर मेरे लंड को दबा रहा है, तो मैंने अपनी आँख खोलकर देखा तो दंग रह गया, वो मेरी बहन पूजा थी. अब उसका हाथ लगने से मेरा लंड खड़ा हो गया था, तो वो डरकर सो गई.

फिर में उसके पास जाकर उसकी जाँघ पर अपना हाथ धीरे-धीरे फैरने लगा और अब मेरा हाथ उसकी जाँघ पर पड़ते ही वो घबरा गई और करवट लेकर सो गई.

फिर मैंने वापस से अपना एक हाथ उसकी जाँघ पर रख दिया, तो इस बार उसने कोई जवाब नहीं दिया, तो में समझ गया की लाईन साफ़ है.

फिर मैंने अपना एक हाथ उसके बूब्स पर रख दिया और धीरे-धीरे सहलाने लगा तो वो सोने का नाटक करती रही. अब मेरी हिम्मत और बढ़ गई थी तो मैंने उसके बूब्स को जोर-जोर से दबाना शुरू कर दिया. अब उसके मुँह से सिसकारी निकलने लगी थी आह आह आह और फिर वो एकदम से बोली कि भैया ये आप क्या कर रहे है?

मैंने कहा कि वही जो तुम चाहती हो. फिर उसने मेरा हाथ हटाकर बोला कि ये ग़लत है, तो मैंने कहा कि तुम करो तो सही और हम करे तो ग़लत. फिर वो बोली कि मैंने क्या किया है? तो मैंने कहा कि भोली मत बनो, तुम ही तो मेरा लंड अपने हाथ में लेकर सहला रही थी. फिर वो चौंककर बोली कि आप सब जानते थे कि में आपका हिला रही हूँ, तो मैंने कहा कि हाँ.

फिर मैंने उससे कहा कि तुमने भूखे शैर को जगा दिया है और उसके लिप्स पर अपने लिप्स लगा दिए और उसे किस करने लगा, तो उसने मुझसे छूटने की बहुत कोशिश की, लेकिन नाकामयाब रही. फिर में किस करते-करते उसके बूब्स दबाने लगा तो वो भी थोड़ी गर्म हो गई और फिर मुझे किस में जवाब मिलने लगा. फिर में अपना एक हाथ उसकी चूत पर लगाकर उसकी चूत को सहलाने लगा तो वो और गर्म हो गई.

फिर मैंने उसकी मेक्सी उतार दी और अब वो सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी और मेरे सामने शर्मा रही थी, तो मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ? तो वो बोली कि में पहली बार किसी के सामने इस तरह खड़ी हुई हूँ. दोस्तों उसका बदन देखने लायक था और वो बहुत ही सुंदर और सेक्सी लग रही थी. फिर मैंने उसकी ब्रा और पेंटी भी उतार दी, अब वो मेरे सामने पूरी नंगी खड़ी थी और में अपने पूरे कपड़े पहने हुआ था.

फिर उसने मुझसे कहा कि मेरे तो आपने सारे कपड़े उतारकर नंगी कर दिया और आपने सारे कपड़े पहन रखे है, अब में ये बात उसके मुँह से सुनकर हैरान रह गया था.

फिर मैंने उससे कहा कि तुम ही मेरे सारे कपड़े उतार दो, तो उसने जल्दी से मुझे नंगा कर दिया और मेरा लंड देखकर हैरान रह गई और बोली कि आपका तो बहुत बड़ा है. फिर मैंने कहा कि पसंद आया तो वो बोली कि बहुत पसंद आया और फिर में उसके बूब्स को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और वो मेरा लंड अपने हाथ में लेकर सहलाने लगी.

फिर में अपना एक हाथ उसकी चूत के पास ले जाकर उसकी चूत को सहलाने लगा और अपनी एक उंगली उसकी चूत में डाल दी. उसकी चूत बहुत ही टाईट थी और मेरी एक उंगली भी अंदर नहीं जा पा रही थी.

फिर मेरी एक उंगली अंदर जाते ही उसके मुँह से आवाजे आनी शुरू हो गई उहह आ धीरे आह उहह. फिर उसने मुझसे कहा कि भैया मुझे कुछ हो रहा है तो मैंने उसे फटाफट लेटा दिया और उसकी चूत के मुँह पर अपना लंड रखा और अंदर डालने लगा, लेकिन मेरा लंड उसकी चूत में अंदर नहीं जा पा रहा था तो में तेल लेकर आया और उसकी चूत और अपने लंड पर लगाया.

फिर में मेरा लंड उसकी चूत में घुसाने की कोशिश करने लगा तो मेरे लंड का टोपा ही अंदर ही गया था कि वो ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने और चीखने लगी और रोने लगी. फिर में रुक गया और उसके बूब्स दबाने लगा और उसे किस करने लगा. फिर थोड़ी देर में वो शांत हो गई तो मैंने फिर से धीरे-धीरे धक्के लगाना शुरू किया और उसे किस करने लगा.

फिर थोड़ी देर के बाद मैंने एक ज़ोरदार धक्का लगाया तो मेरा लंड उसकी सील तोड़ता हुआ अंदर चला गया और मेरे लिप्स उसके लिप्स पर होने की वजह से उसके मुँह से चीख नहीं निकली. फिर मैंने उसे चोदकर अपने लंड को शांत किया और उस दिन के बाद से आज तक मैंने उसे जमकर चोदा है. अब तो वो भी मेरे लंड की दीवानी हो गई है.

sex kahaniya

#बहन #चदवकर #लड #क #दवन #बन #गई

बहन चुदवाकर लंड की दीवानी बन गई

Return back to Bhai Bahan Ki Chudai sex stories, Bhai Behan Ki Chudai sex stories, रिश्तों में चुदाई, हिंदी सेक्स स्टोरी

Return back to Home

Leave a Reply