पुराने घर की सफाई और बड़ी मम्मी की चुदाई

Puraane Ghar Ki Safayi Aur Badi Mummy Ki Chudai

<br>पुराने घर की सफाई और बड़ी मम्मी की चुदाई
पुराने घर की सफाई और बड़ी मम्मी की चुदाई – Puraane Ghar Ki Safayi Aur Badi Mummy Ki Chudai
हेलो दोस्तों, यह मनदीप रायपुर से है। मैं 23 साल का एक युवा हॉट स्टड हूं। मैं 5'10" लंबा हूं और औसत आकार का लिंग 6.8 इंच नीचे है।
ये कहानी मेरी और मेरी पड़ोसन आंटी की है, जिसका मैं बहुत सम्मान करता था, और उसे बड़ी मम्मा कह कर बुलाता था।
उनकी उम्र 48 है और फिगर कर्वी है। स्माइल उनकी मोहक है, जो किसी का भी लुंड खड़ा कर दे। चलो अब कहानी की तरफ चलती है।
ये तब की बात है, जब हम दोनों पड़ोसी परिवार अपने नए बंगलों में शिफ्ट हो रहे थे। वो हमसे 2 महीने पहले ही शिफ्ट हो गए थे। और अब ग्रह-प्रवेश की बारी हमारी थी, और हमें गेस्ट को रुकने के लिए जगह चाहिए थी.
इसलिए हमने उनके घर की चाबी मांगी, क्योंकि उनका घर हमारे घर के बिलकुल सामने ही था। हमें चाबी देने से पहले वो एक कामवाली को साफ-सफाई के लिए लेकर आई।
तब अचानक से एमसीबी ट्रिप हो गई, और लाइट चली गई। इस कारण से उन्हें मुझे बुलाया, ताकि मैं उनकी मदद कर सकु।
जब मैं वहा पाहुंचा, तो मैंने उनको झुकी हुई देखा। वो कुछ उठाने के लिए झुकी हुई थी। विश्वास करना दोस्त, उनको देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया। उनकी गांड बहुत चौदी है।
उनकी कुर्ती के स्लीव के कोने पर एक टैटू भी था। उफ्फ हम 48 साल की औरत ने मेरा लंड खड़ा कर दिया। वो पल जब मैं उनको देख रहा था, मेरा मन उनकी गांड में मुह लगाने का कर रहा था।
फिर उन्हें मुझे उनको घूरते हुए देखा लिया, और एक नॉटी स्माइल दी। फिर वो उठ गई। मैंने एमसीबी को ठीक किया और वापस आने लगा।
मुझे याद है एक बार उनका एक एक्सीडेंट हुआ था, जिसका निशान उनके हाथ पर। मैंने उनको टच किया, और उसके बारे में पूछा। उन्हें फिर मुझे वो निशान दिखाये। मैंने उनको वहां पर भी एक टैटू बनवाने की सलाह दी।
मैं: बड़ी मम्मा, कैसा है आपका हाथ अब?
बड़ी मम्मी: हाथ काम तो कर रहा है, पर देख ना, दिखा भी नहीं सकती इतना गंदा दिख रहा है अब।
मैं: तो बड़ी मम्मी आप टैटू करवा लो अच्छा सा इस्पे भी (मजाक में बोला)।
बड़ी मम्मी: हा सोचा हुआ है, पर एक-दम विजिबल टैटू अपने शहर में दिक्कत करेगा सोसाइटी को। तुम्हें पता है मेरा क्या मतलब है मनदीप?
मैं: किस-किस की टेंशन ले लोगे बड़ी मम्मी? वैसे भी आपका एक तो दिखने में ही है
बड़ी मम्मी: हा-हा तू जब से आया है उसे और एक जगह और ही तो देख रहा है।
मैं: अच्छा जी, ये सब आपने मुझे करते हुए देखा लिया?
बड़ी मम्मी: मुझे तो ये भी पता है, जब मैं यहां रहती थी, तब तू वो रंगी हुई कांच के पीछे जाके मुझे देख कर क्या-क्या करता था।
मैं: और आपको कोई दिक्कत नहीं है?
बड़ी मम्मी: मुझे क्या ही दिक्कत होगी मैंडी? मुझे इस उमर में भी अटेंशन मिल रही है तुझ जैसे से, तो और क्या ही मांगू (उसने आंख मारी)।
मैं: अटेंशन की पूर्ति करे? (कान में फुसफुसाते हुए) अभी तो इस घर में कोई है भी नहीं मेरे और आपके अलावा।
बड़ी मम्मी: अहम-अहम! तू तो बड़ा सीधा है सब के हिसाब से, और मेरे सामने क्यों खुल रहा है?
मैं: क्योंकि आपने मेरा सीधा कर दिया है।
ये सुन कर बड़ी मम्मी हस पड़ी।
बड़ी मम्मी: तू वर्जिन है ना?
मैं: हा बड़ी मम्मी, अब खीचना मत आप भी मेरी।
बड़ी मम्मी: अरे नहीं बेटा, मुझे तो सीखना काफी पसंद है।
फिर बड़ी मम्मी मेरे नाज़दीक आने लगी, और देखते ही देखते हम दोनों के होठों को जज कर चुके। उनकी लिपस्टिक बहुत टेस्टी थी। और मैं पागलों की तरह उनके होठों को चाटने और जीभ को चुनने लगा।
यही करते-करते मैंने उनकी कुर्ती की स्लीव्स दो हटा दी उनकी नेक पर किस करते हुए, और उन्हें पहनी थी मेरी फेवरेट ब्लैक कलर की ब्रा। मुझसे रहा नहीं गया, और मैंने उनकी ब्रा स्ट्रैप अपने मुह से ही हटानी शुरू कर दी। साथ-साथ मेरे हाथ उनकी वापस तोल रहे थे।
फिर बड़ी मम्मी बोली: गढ़े अंदर तो चल, लिविंग रूम है ये, और लॉक भी नहीं है।
मैं: सॉरी बड़ी मां, एक्साइटमेंट आप जानती हैं।
फिर वो भुखी शेरनी जैसे मेरी शर्ट को पकड़ कर मुझे अंदर ले गई। अब वो पागल हो चुकी थी। कमरे का दरवाज़ा बंद करते ही मुझे उन्हें दीवार पर ढकेला, और अपने कपड़े उतारने लगी।
उनकी कुर्ती उतारते ही में उन पर चढ़ा गया, और उनके जिस्म को अपने हाथ से महसूस करने लगा। फिर धीरे से मैंने उनकी सलवार उतारी, और फिर आई वो गांड जिसके लिए में 8 साल से हिला रहा था।
उनकी गांड पर मैंने स्पैंक करना शुरू किया, और उनकी सिसकियां निकलीं। उनको मैं चूमते हुए उनके गले तक पहुंचूंगा, और फिर उनकी ब्रा उतार कर फेंक दी। फिर मैं पागलों की तरह उनके बूब्स पर टूट पड़ा।
Army-area-wali-aunty-sex-kahani-antarvasna-story
तबी बड़ी मम्मी ने बोला: इतनी जल्दी नहीं, मैं जैसा कहूं वैसा कर।
फिर अनहोन अपनी पेंटी उतारते हुए मेरे मुह को नीचे ढकेला और कहा-
बड़ी मम्मी: इसको खा।
और मैं पागल वर्जिन की तरह उनकी छूत चाटने और चुनने लगा। मुझे स्वाद से फरक नहीं पड़ रहा था, क्योंकि मुझे तो बस मजा आना चाहिए था, जो मुझे आ रहा था। मैं जब अपनी जीभ और नाक उनकी छूत में रगड़ रहा था, उनकी सिसकीयां निकल रही थी। फिर वो बोली-
बड़ी मम्मी: आह साले तू मेरे को पहले क्यों नहीं मिला? मैं इसी तरह से रोज तुझसे छू कर छतवाती।
मुख्य: अब रोज चाट दूंगा बड़ी मम्मी।
ये बोल कर मैं खाता रहा उनकी छूट को। वो मेरे बालों को पकड़ कर मुझे अपनी छूट पर दबती रही, और 8-10 मिनट में उनको अपना पूरा नमकीन पानी मेरे मुह पर छोड़ दिया। मैने एक बूंद तक नीचे नहीं गिरने दी, और पूरी चाट गया।
बड़ी मम्मी: साले तू तो वर्जिन है तो इतनी अच्छी चुत कैसे चाट लेता है?
मैं: आपको चाटने की कल्पना तो कब से जारी है बड़ी मम्मी।
बड़ी मम्मी: अच्छा? अब मैं भी तो देखू तेरे अंडरवियर में क्या छुपा है साले।
मैं: जो भी है, टाइट है एक-दम फिल्हाल।
फिर बड़ी मम्मी उठ कर मेरे सामने आई। मैं बिस्तर के सामने खड़ा था। फिर अनहोन मेरी अंडरवियर जैसी ही निकली, मेरा लौड़ा स्प्रिंग जैसी बहार आ गया।
बड़ी मम्मी: ऐ-हाए! मैंडी तू तो काफी बड़ा हो गया है।
फिर उनका मेरा लौड़ा पकड़ कर तुरंत उसे चुनें शुरू कर दिया। 3-4 मिनट उनके चुने ही मेरा निकल गया, क्योंकि मैंने पहले कभी नहीं किया था।
बड़ी मम्मी ने पूरा रस अपने मुह में भरा था, और फिर वो मुझे किस करने लगी। हमारे कम जो मेरे मुह में था, और जो उनके मुह में था, दोनों मिक्स होते रहे हमारे होंठों के बीच। 5 मिनट के अंदर मैं वापस तैयार था अपने हाथों के साथ।
तब बड़ी मम्मी ने बोला: बहुत तेज है मांदरछोड़ तू। याद है ना मैं तेरी मां की दोस्त भी हूं साले? बताउ तेरी मां को कैसे छोड़ता है तू?
मैं: पहले ले तो लो बड़ी मम्मी, फिर मम्मी को छोड़ के पूरे ग्रुप में फेला देना। मैं भी तो अलग-अलग छूट के भूल जाऊं।
बड़ी मम्मी: बहनछोड़ चल लगा उसे छेद में मेरे, और मिटा इस कौगर के जिस्म की भूख है।
फिर मिशनरी में मैंने उन्हें लिटाया, और उनका मेरा लुंड पकड़ कर अपनी छूट में फसाया। और फिर क्या था, मैंने बिना कुछ सोचे एक बार में पूरा लुंड डाल दिया (उनकी छूट ढीली थी)। उनकी जोर की गाल निकल गई-
बड़ी मम्मी: अबे साले, एक बार में नहीं डालते आह्ह्ह्ह्ह्ह।
मैं: सॉरी बड़ी मम्मी, मुझे नहीं पता था।
बड़ी मम्मी: चुप कर साले, और अभी जितनी जोर से घुसया है ना, हर स्ट्रोक उतनी ही जोर से होना चाहिए।
फिर मैंने उनकी गर्दन से उन्हें पकड़ा, और उनकी एक टांग को अपने कंधे पर रख कर उनकी छूत मारने लगा। उनकी चीखे तेज हो रही थी।
बड़ी मम्मी: आह मनदीप आह साले, कहा था तू? छोड़ आज मुझे अच्छे से आह आह कुत्ते आह और दाल, और दार आह आह उम्म उम्म्म।
मैं उनके बूब्स पर स्पैंक भी कर रहा था। वो मुझे गलियां देते हुए बोलने लगी-
बड़ी मम्मी: साले वर्जिन था तू कैसे इतनी देर टिक गया मेरी चुत में?
उनके ये बोलते हुए मैंने अपनी गति और बढ़ा दी।
मुख्य: अह बड़ी मम्मी आह हा, मेरा बस अब निकल ही वाला है उम्म अहहहह।
बड़ी मम्मी: अभी नहीं, अभी नहीं ओह बकवास छोड़ साले, और छोड़।
मुख्य: नहीं बड़ी मम्मी, नहीं हो रहा, नहीं हो रहा आह आह।
बड़ी मम्मी: झड़ जा अंदर ही, मैं प्रेग्नेंट नहीं हो सकती अब आह।
और मैंने एक लाउड मून के साथ अपना माल पूरा उनकी छूट में छोड़ दिया, और उन पर गिर पड़ा। फिर मैं उनको किस करने लगा, अनहोन करने के लिए तूरंत हत्या और बोली-
बड़ी मम्मी: सुन्न ना, रोमांटिक होने की जरूरत नहीं है। सिर्फ छोड़ जलील करते हुए मुझे तू। तेरी अभी काफी ट्रेनिंग करनी है। आज तो तू बस 9 मिनट टीका है। इसको 40 मिनट तक मैं लेके जाऊंगी समझ।
मैं: बिल्कुल बड़ी मम्मी जैसा आप कहो।
उसके बाद की अगली चुदाई कैसे उनके एक दोस्त के साथ हुई, ये अगली कहानी में बयान करता हूं। अभी के लिया अलविदा।
यदि आप गुप्त बातें करना चाहते हैं तो मजे के लिए मुझसे महिलाओं से संपर्क करें।
आपने इसके बारे में क्या सोचा? पुराने घर की सफाई और बड़ी मम्मी की चुदाई
Desi Indian Porn Videos
<br>पुराने घर की सफाई और बड़ी मम्मी की चुदाई

Puraane Ghar Ki Safayi Aur Badi Mummy Ki Chudai – पुराने घर की सफाई और बड़ी मम्मी की चुदाई

पुराने घर की सफाई और बड़ी मम्मी की चुदाई - पुराने घर की सफाई और बड़ी मम्मी की चुदाई