तरु को अपना लंड चटाया

age" alt="" loAding="lazy" srcset="https://sexkahani.net/wp-content/uploads/2019/06/pexels-photo-1450155.jpeg 2250w, https://sexkahani.net/wp-content/uploads/2019/06/pexels-photo-1450155-300x200.jpeg 300w, https://sexkahani.net/wp-content/uploads/2019/06/pexels-photo-1450155-768x512.jpeg 768w, https://sexkahani.net/wp-content/uploads/2019/06/pexels-photo-1450155-1024x683.jpeg 1024w" sizes="(max-width: 2250px) 100vw, 2250px"/>

हैल्लो दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मैं जानता हूँ कि आप सभी अपनी लाइफ में बहुत खुश होंगे और चुदाई के मजे तो जरुर ले रहे होंगे | आखिर लोगे क्यू नहीं बारिश का मौसम जो है | दोस्तों, मेरा नाम मनीष है और मैं जबलपुर का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 22 साल है और मैं दिखने में ऐसे ही बकचोद टाइप का हूँ | मेरी हाईट 5 फुट 6 इंच है और मैं पतला दुबला हूँ | मेरे लंड का साइज़ 4 इंच लम्बा और इंच मोटा हूँ | मेरे घर में मैं हूँ, मेरे 3 भाई जो कि दो मुझसे बड़े है और एक मुझसे छोटा है | बाकि मम्मी सरकारी स्कूल में टीचर है और पापा सरकारी फैक्ट्री में कर्मचारी है | दोस्तों आज जो मैं आप लोग के सामने अपनी कहानी पेश कर रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | इस कहानी मैं आप लोगो को बताऊंगा कि कैसे मैंने एक बजनदार लौंडे की भतीजी को फंसाया और उसे पटा कर चोदा भी | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय ना लेते हुए सीधा अपनी कहानी शुरू करता हूँ |
ये घटना तब कि है जब मैं जबलपुर पहली पहली बार आया | वहां पर मेरे ज्यादा फ्रेंड्स नही थे तो एक लड़का था जिसका नाम अंकुश है वो मेरा सबसे पहला दोस्त बना | वो मेरा जिगरी दोस्त है और उसका नेचर बहुत अच्छा है | वो दिखने में अच्छा खासा है पर वो ज्यादा पढ़ा लिखा नही है तो उसे अच्छी जॉब नही मिल पा रही है | वो पुट्टी का काम करता है | पर वो इतना स्मार्ट है कि उससे लडकिया जल्दी पट जाती है | मेरी कोई भी गर्लफ्रेंड नही थी तो मैंने अंकुश से कहा कि भाई तू तो इतनी सारी लडकिया पटा कर चोदा है भाई मेरे लिए भी कुछ करना | मुझे भी कोई लड़की पटवा दे ताकि मैं भी अपनी जिन्दगी के मजे ले सकू | तो अंकुश ने मुझे एक लड़की का नाम बताया जिसका नाम तरु है | वो दिखने में बहुत ही सुन्दर और सेक्सी है और उसका बदन | उसका बदन तो ऐसा है कि अच्छे अच्छो को कायल कर दे | उसे बड़े बड़े दूध है और बड़ी चौड़ी गांड है | उसकी कमर पतली हो और शक्ल से भोली भाली लगती है | उसे देख कर कोई भी ये नही कह सकता कि वो कोई चुदक्कड़ लड़की हो सकती है | पर असल में वो रंडी है | उसके पापा और मम्मी दोनों नही है और वो अपने चाचा के घर में पली बढ़ी और पढ़ी है | उसके चाचा उस एरिया के डॉन है और उनका काफ़िर रुतबा चलता है जबलपुर में | अंकुश में मुझे उसका ही नाम बोला कि इसको पटा ले और चोद भी देना क्यूंकि ये खौलती चूत है | जितना लंड अन्दर डालो उतना लेती जायगी | अंकुश ने भी उसे कई बार चोदा है | अंकुश ने जिस तरीके से मुझसे बताया उसके हुस्न के बारे में तो मैं इतना सुन कर ही मन में खयाली पुलाव बना कर बैठ गया | अब तो मन में बस तरु के ही ख्याल उबलने लगे थे | अब तो लग रहा था कि किसी तरह वो पट जाये तो मैंने उसे पटा कर चोदु |
मैं दिन रात उसी के बारे में सोचने लगा कि अंकुश ने जैसा मुझे उसके बारे में बताया है क्या वो सच में वैसी ही होगी | फिर एक दिन मैं अंकुश से मिला और उससे पूछा कि भाई अंकुश मुझे वो लड़की देखना है यार जिसके बारे में तूने मुझे बताया था | तो अंकुश ने मुझसे कहा कि मादरचोद ज्यादा गरमा रहा है क्या बहनचोद मिल लेना अभी गर्मी की छुट्टिया चल रही है | तो मैंने कहा लंड के बाल तो घर में भी छुट्टी मना रही है क्या ? भोसड़ी के घर से बाहर नही निकलती क्या ? तो अंकुश ने कहा कि अबे झांट के बाल कोचिंग जाती है पर मुझे उसके कोचिंग का टाइम नही पता | तो मैंने कहा कि लौड़े उसके घर का पता ही बता दे तो मैं उसको ताडू और पता करू कि कितने बजे वो घर से निकलती है कोचिंग के लिए | तो अंकुश ने मुझसे उसके घर का पता बता दिया | अब मैं रोज उसी के घर के सामने उठने बैठेने लगा | पर मदरचोदी दिखती ही नही थी | तभी एक दिन शाम के 6 बजे अपने घर से निकली जीन्स और टॉप पहन कर | माँ कसम क्या लग रही थी | अंकुश ने मुझे जैसा बताया था उसके बारे में वो तो उससे भी अच्छी है | फिर मैंने अंकुश से कहा कि अबे यार वो तो 6 बजे कोचिंग के लिए निकलती है भाई बात करवा दे उससे | तो अंकुश ने कहा कि देख भाई अगर मैं सामने आऊंगा तो वो तुझसे कभी नही पटेगी | इसलिए बहतर होगा कि तू खुद से बात कर | मैंने कहा कि थी है भाई कोई मुहचोदी तो नहीं होगी न ? तो अंकुश ने कहा कि अबे लंड के बाल मैं हूँ न तू टेंशन मत ले किसी भी चीज़ की | तो मैंने कहा ठीक है भाई मैं उससे खुद ही बात करता हूँ | फिर अगले दिन मैंने उसकी कोचिंग के बाद मैंने तरु को रोका और कहा कि यार मैं तुमसे प्यार करता हूँ उतने में ही उसका बॉयफ्रेंड आ गया | उसके बाद उसने मुझे बहुत मारा | ये बात मैंने अंकुश को बताया तो अंकुश ने मुझसे कहा कि चल बहनचोद किसने तुझे मारा आज तो मैं तुझे वो लड़की चुदवा ही दूंगा और कौन है वो लौंडा उसकी गांड भी तोड़ दूंगा | उसके बाद शाम को मै और अंकुश दोनों ही उसके कोचिंग की बाहर तरु और उसके बॉयफ्रेंड के निकलने का वेट करने लगे | जैसे ही वो दोनों निकले तो मैंने अंकुश से कहा कि भाई यही वो लौंडा है जिसने मेरी गांड तोड़ी थी | उतने में अंकुश के साथ के लौंडे भी आ गए | फिर अंकुश और उसके साथ के लौंडे मिल के उसको खूब पीटे और मैंने भी उनका साथ दिया और उसके मुंह पे ही शॉट पे शॉट मारे | फिर अंकुश ने कहा कि तरु को भी ले चलो मेरे घर में | फिर हम सब ने तरु को अंकुश के घर ले कर चले गए | उसके बाद अंकुश ने कहा मुझसे कि तू इसको ले कर अन्दर ले के जा और चोद दे | फिर मैं उसे ले कर अन्दर गया और उसके कपडे उतार कर पूरा नंगा कर दिया | अब मैं उसके दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा तो उसके मुंह से आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ की सिस्कारिया निकलने लगी | उसके बाद मैंने भी अपने पूरे कपडे उतार कर नंगा हो गया |
फिर मैंने उसे लंड चूसने को कहा तो वो मेरे लंड को पकड़ कर चाटने लगी और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया लेने लगा | उसके बाद उसने मेरे लंड को अपने मुंह में भरते हुए आगे पीछे करते हुए चूसने लगी | मैं भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए उसके मुंह को चोदने लगा | फिर उसके बाद मैंने उसे बेड पर लेटाया और उसकी टाँगे चौड़ी कर दिया और उसकी चूत पर अपनी जीभ रख के चाटने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मचलने लगी |
फिर मैंने उसकी चूत में अपना लंड टिकाया और पूरा लंड उसके फटे भोसड़े में डाल दिया | अब मैं उसकी चूत को जोर जोर से चोदते हुए दूध को दबाने लगा | वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर चुदाई का मजा लेने लगी | रंडी तो है मादरचोद | फिर मैंने चुदाई की स्पीड बढ़ा दी और जोर जोर से चोदने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया लेने लगी | उसके बाद मैंने उसके मुंह के ऊपर ही अपना माल छोड़ दिया | जब हम बाहर आये तो उसने अंकुश से कहा कि तुमने मेरे साथ ये बहुत गलत कर दिया | तो अंकुश ने कहा कि जा रे छिनार मुझसे मुंह लग कर बात मत कर | उस समय हमने घर चेंज कर चुके थे बाद में खबर आई कि अंकुश को तरु के चाचा ने मार डाला |
तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी | मैंने उम्मीद करता हूँ कि आप सभी को मेरी ये कहानी पसंद आई होगी |

#तर #क #अपन #लड #चटय

तरु को अपना लंड चटाया

Return back to Bhai Bahan Ki Chudai sex stories, Bhai Behan Ki Chudai sex stories, रिश्तों में चुदाई, हिंदी सेक्स स्टोरी

Return back to Home

Leave a Reply