एक बहन को चोदा दुसरी बहन की तैयारी

हैल्लो दोस्तों, में अब तक बहुत लोगों की कहानी पढ़ चुका हूँ और आज में आपको अपने बारे में बताता हूँ. मेरा नाम राघव है और में कानपुर में रहता हूँ. में 21 साल का हूँ और मेरे घर में मेरे मम्मी, पापा और मेरी दो बहनें है. मेरी बड़ी बहन का नाम रुशाली है और वो 26 साल की है, मेरी छोटी बहन रिया 19 साल की है.

मेरी दोनों बहनें बहुत ही सुंदर है, मेरा दिल उन दोनों को चोदने का करता है, लेकिन में डरता था. कभी- कभी श्वेता मुझे अजीब सी नजरों से देखती थी, जिससे मुझे लगता था कि वो भी मुझसे कुछ चाहती है. फिर एक बार मेरे मम्मी, पापा और रिया मेरे मामा के घर एक शादी मे 10 दिनों के लिए चले गये. अब रुशाली के एग्जॉम चल रहे थे इसलिए में और रुशाली नहीं जा सके थे. उस दिन रुशाली कुछ ज़्यादा ही खुश नजर आ रही थी.

फिर उस रात हम दोनों खाना खाकर अपने कमरे में सोने चले गये, तो रात में लगभग 12 बजे रुशाली मेरे कमरे में आई और मेरे बगल में सो गयी और अपना हाथ मेरे लंड के ऊपर रखकर सहलाने लगी. अब मेरा लंड धीरे-धीरे खड़ा होने लगा था. अब रुशाली डर गयी थी और उसे लगा कि में जगा हुआ हूँ, तो रुशाली ने अपना हाथ झट से हटा लिया और सोने लगी.

फिर थोड़ी देर तक रुशाली ने कुछ नहीं किया तो में भी सो गया. फिर रात में 3 बजे मेरी आँख खुली तो रुशाली मेरे बगल में सो रही थी. फिर में धीरे से अपना एक हाथ उसके बूब्स पर रखकर धीरे-धीरे दबाने लगा और रुशाली सोई ही रही. फिर में अपना एक हाथ उसकी ब्रा के अंदर डालकर उसके बूब्स को दबाने लगा. फिर तभी रुशाली की आँख खुल गयी और वो मेरे हाथ को झटकाते हुए गुस्से से बोली कि राघव ये क्या कर रहे हो? तुम्हें शर्म नहीं आती, आने दो मम्मी को में सब बताती हूँ और फिर वो अपने कमरे में जाने लगी.

तभी मैंने उसके हाथ को पकड़ा और बोला कि पहले ये तो बताओ कि तुम मेरे कमरे में क्या कर रही हो? तो वो बोली कि मुझे अपने कमरे में डर लग रहा था इसलिए यहाँ आकर सो गयी थी, लेकिन तुम तो, तुम ऐसे होंगे मैंने कभी नहीं सोचा था, आने दो मम्मी को में सब बताती हूँ और वो जाने लगी. फिर तभी मैंने उसे अपनी तरफ खींचकर उसे बेड पर पटक दिया और उसके बूब्स को दबाते हुए बोला कि मेरी रानी गुस्सा क्यों हो रही हो? जब मेरे लंड को सहला रही थी तब तो मम्मी की याद नहीं आई और अब मम्मी की याद आ रही है.

तब जाकर रुशाली शांत हुई और बोली कि राघव तुम्हें सब पता है? तो मैंने कहा कि हाँ मेरी जानेमन मुझे सब पता है. फिर उसके बाद तो रुशाली मुझसे लिपट गयी और बोली कि राघव आई लव यू, तुम्हें नहीं पता में तुम्हें कितना चाहती हूँ? फिर उसके बाद हम दोनों एक दूसरे के होंठो को चूमने लगे. फिर मैंने रुशाली के सारे कपड़े उतार दिए और अपने भी कपड़े उतार दिए.

अब रुशाली सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी. फिर जब मैंने रुशाली को देखा तो बस देखता ही रह गया, में जिंदगी पहली बार किसी लड़की को इस हालत मे देख रहा था. अब मेरा लंड तो बिल्कुल तनकर खड़ा हो गया था. फिर उसके बाद में रुशाली के बूब्स को दबाने लगा. अब रुशाली धीरे-धीरे गर्म होने लगी थी, तो तब मैंने अपना लंड बाहर निकाला और रुशाली के हाथ में दे दिया, तो रुशाली मेरे लंड के साथ खेलने लगी. फिर में अपना लंड रुशाली के मुँह में डालने लगा, तो रुशाली मना करने लगी और बोली कि नहीं राघव प्लीज.

मैंने कहा कि जानेमन आज तो हमारी सुहागरात है और आज की रात यही सब तो होता है, आज मना करोगी तो ये साहब नाराज़ हो जाएँगे. फिर तब रुशाली मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लग गयी. अब उस वक़्त मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

फिर थोड़ी देर में मेरा सारा रस मैंने रुशाली के मुँह में ही निकाल दिया तो रुशाली मेरा सारा जूस पी गयी. फिर उसके बाद मैंने रुशाली की ब्रा और पेंटी उतार दी और रुशाली की चूत में अपना लंड डालने लगा. फिर रुशाली चिल्ला पड़ी और बोली कि राघव प्लीज धीरे-धीरे डालो दर्द होता, पहली बार तुम्ही तो मेरे राजा बने हो. फिर मैंने रुशाली को आराम-आराम से चोदना शुरू कर दिया और फिर हम दोनों ने उस रात दो बार किया और थककर सो गये.

सुबह जब में सोकर उठा, तो रुशाली बाथरूम में नहा रही थी, तो में सीधा बाथरूम में चला गया और रुशाली को पीछे से पकड़ लिया और उसके बूब्स को दबाने लगा. फिर रुशाली मुझे देखकर खुश हो गयी और मुझसे लिपट गयी. अब हम दोनों साथ-साथ नहाने लगे थे और फिर में रुशाली को फिर से चोदने लगा. फिर उसके बाद रुशाली अपने कॉलेज चली गयी और इस तरह से हम दोनों एक हफ्ते तक पति पत्नी की तरह एक दूसरे के साथ मज़ा करते रहे.

अब हम कभी बाथरूम में, कभी किचन में तो कभी सोफे पर जब मन करता एक दूसरे के साथ चिपक जाते थे. फिर जब मम्मी, पापा आ गये तो तब हम दोनों चुप-चुपकर अपना काम कर लेते थे. फिर एक दिन में रुशाली से बोला कि रुशाली में एक बार रिया को भी चोदना चाहता हूँ. फिर रुशाली बोली कि राघव तुम पागल तो नहीं हो गये हो, रिया अभी सिर्फ़ 18 साल की है उसे थोड़ी और बड़ी होने दो, फिर कर लेना.

मैंने कहा कि रुशाली तू भी ना, रिया अब बच्ची नहीं है और कब तक इंताजार करवाओगी? सोचो जरा कितना मज़ा आएगा जब में तुम और रिया एक साथ होगे? तो तब जाकर रुशाली बोली कि अच्छा मेरे साजन जी बहुत जल्द मेरी ननद और तुम्हारी साली तुम्हारी बीबी बनकर तुम्हारे सुहाग के सेज पर होगी. फिर हम दोनों हँसने लगे.

bookmark" data-pin-color="red" data-pin-height="128">assets.pinterest.com/images/pidgets/pinit_fg_en_rect_red_28.png"/>

#एक #बहन #क #चद #दसर #बहन #क #तयर

एक बहन को चोदा दुसरी बहन की तैयारी

Return back to Adult sex stories, hindi Sex Stories, Indian sex stories, Popular Sex Stories, Top Collection, रिश्तों में चुदाई, हिंदी सेक्स स्टोरी

Return back to Home

Leave a Reply