सास के सामने ही छोटी साली को पटक कर चोदा, Sex Story, सेक्स कहानी

सास के सामने ही छोटी साली को पटक कर चोदा, Sex Story, सेक्स कहानी

सास के सामने ही साली की चुदाई, साली सेक्स, साली की सेक्स कहानी, साली की चुदाई, सास के सामने छोटी साली की चुदाई जीजा के द्वारा, Sali ki Chudai, Sas ke Samne Sali ki chudai, Sali ko patak kar choda हिंदी में सेक्स कहानी।

आज मैं आपको अपनी हॉट और सेक्सी नई सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूँ। इस कहानी में मैं आपको ये बताने जा रहा हूँ की कैसे मैंने अपनी साली को पटक कर चोद दिया अपने सास के सामने और वो कुछ भी नहीं बोली। आखिर वो क्यों नहीं बोली ये आपको पता चल जायेगा और वो खुद बोलने लगी की दामाद जी आप इस छिनार की चूत की गर्मी शांत कर दो और ले जाओ अपने पास इसको रोजाना चोदना। आप पूरी कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर सूना रहा हूँ।

मैं खुद कभी कहानी नहीं लिखा। पर आप लोगों की सच्ची पारिवारिक सेक्स कहानियां सुनकर और पढ़कर मुझे भी चुदाई की कहानी लिखने की चाहत होने लगी और आज मैं आपको गरमा गर्म सेक्स कहानी लिख कर बताने जा रहा हूँ की वो भी हॉट कमसिन साली की कहानी।

मेरा नाम पवन है। मैं दिल्ली के बुद्ध विहार में रहता हूँ। मैं उन्तीस साल का हूँ। मैं शादी शुदा होकर बिना बीवी के बिना रह रहा हूँ। क्यों की मेरी बीवी मुझे छोड़ कर अपने किरायेदार के साथ भाग गयी। वो पहले से ही उस लड़के के साथ प्यार में थी। और शादी के तीन महीने बाद ही वो भाग गयी। शायद मेरी बीवी को मेरे मोटे और दस इंच के लंड से बहुत डर लगता था। क्यों की वो कई बार मुझे बोली थी की आपका मोटा लंड मुझे बहुत दर्द देता है। मेरी चूत सूज जाती है। अंदर आराम से जाता नहीं है और दर्द के मारे मेरा दिमाग खराब हो जाता है। और आप मुझे रगड़ कर चोद देते हैं।

तो मैं उसको कहता था की धीरे धीरे दर्द ठीक हो जायेगा तुम चिंता नहीं करो। और ऐसा हुआ की वो भाग गयी शायद वो तो चिंता नहीं करती है अब पर मुझे चिंता बहोत होने लगी है बिना चुदाई के। क्यों की बिना चूत की चुदाई किये मजा नहीं आता है भला कोई ज़िंदगी है बिना चूत चोदने के।

पर बीवी भले ही भाग गयी पर मेरे मेरी सास और छोटी साली अभी भी मुझे उतना ही चाहती है। जितना की पहले चाहती थी। क्यों की मेरे ससुर अब इस दुनिया में नहीं हैं। वो चल बसे कोरोना बीमारी के चलते। वो मैं उन दोनों का खर्चा भी चला रहा था।

पर जब से मेरी बीवी भाग गयी। तब से मेरी सास और छोटी साली गाँव जो की दिल्ली के पास ही है हापुड़ वह चली गयी। तो मैं पिछले सन्डे को भी हापुड़ गया था क्यों की सास की तबियत ठीक नहीं थी उनका इस दुनिया में मेरे अलावा और कोई नहीं है।

जिस दिन गाँव पहुंचा तो मेरी सास ही थी साली नहीं थाई। रात के आठ बजे थे। तो मैं पूछा की कहा गयी है ममता। तो सास बोली क्या बताऊँ दामाद जी। वो आजकल मेरे कहे नहीं चल रही है। गाँव का ही एक लड़का है उसी के चक्कर में रहती है। वो लड़का बहला फुसला कर बुला लेता है और वो खेत के तरफ जाकर पता नहीं क्या करवाती है। और रोने लगी की लड़की हाथ से निकल गयी है। और लड़का ही वो जात का है जिसके बारे में आपको कुछ बोल भी नहीं सकती।

रात के करीब नौ बज गए तब तक भी वो नहीं आई तो सास बोली मैं आती हूँ देखकर कहा गयी है। तो मैं भी अपने सास के साथ ही चल दिया ढूढ़ने के लिए। खेत तरफ गया तो आम पेड़ के निचे मोबाइल की हलकी लाइट जल रही थी। करीब 400 मीटर की दुरी पर। हम दोनों को लगा की वही है। इसलिए हम दोनों वही चले गए. जब उसके करीब पहुंचे तो हम दोनों ही दंग रह गए।

वो उसी लड़के से चुद रही थी। और कह रही थी चोद मुझे मेरी चूत की गर्मी शांत कर दो प्लीज। मेरी चूत बहुत प्यासी है लंड की। ये सुनकर सास दौड़कर पहुंची वो लड़का भाग गया और मेरी साली तुरंत ही खड़ा हो गयी और अपनी पेंटी ढूढ़ने लगी और अपना बूब्स ब्रा के अंदर बंद करने लगी। मेरी सास गाली देती हुई पेंटी हाथ में दी तो वो पेंटी पहनी और सलवार पहनी।

मेरी सास एक चाटा जोर से लगाई। और बोली क्यों रे छिनार तेरी चूत में ज्यादा गर्मी हो गयी है जो तुम्हे रात में लड़के चाहिए। अपनी गांड मरा रही है। तो मेरी साली भी गाली देती हुई बोली क्यों जब तुम पड़ोस वाली अंकल से चुदवाती है तो मैं कुछ बोली तुम भी तो गांड मरवाती है और चूत की गर्मी शांत करवाती है। तो मैं कर रही हूँ तो तुम्हे जलन क्यों हो रही है।

तो मेरी सास बोली तुझे चुदाई की गर्मी चढ़ गयी है ? तो वो बोली हां मुझे चुदाई का चस्का लग गया है बिना चुदाई की रह नहीं पाती हूँ इसलिए लड़का ढूढ़ती हूँ जो मेरी चूत की गर्मी शांत के दे. ला दे मेरे लिए कोई जो मुझे चोदे तो मैं तो चाहती हूँ मेरी शादी करा दो।

मेरी सास ग़ुस्से से भरी हुई गालिया देने लगी और मेरे तरफ बोली। दामाद जी देख क्या रहे हो ? पटक कर चोद दो इस छिनार को। और मैं भी तैस में आ गया और साली के तरफ बढ़ते हुए बोला आ मैं दिखाऊ लंड किसे कहते है। और मैं तुरंत ही अपने साली को वही पटक दिया टूर पेंटी खोल दिया और दोनों टांगो को अलग अलग किया और अपना लंड उसके चूत के ऊपर रखा। और जोर से पेल दिया।

मेरा मोटा लंड तेजी से उसके चूत में दाखिल हो गया। पर ममता को दर्द तक नहीं हुआ। उसकी चूत काफी गीली थी। तो लंड आराम से आने जाने लगा था पहले से ही वो अपनी चूत को फैला करवा चुकी थी। तो मेरा लैंड भी वो आराम से ले रही थी।

वो भी कहने लगी पहले से ही अगर मुझे चोदते तो मैं क्यों बाहर मुँह मारती। पर तुम्हे तो अपनी जवान साली भले ही कमसिन है दिखाई ही नहीं देती। वो मुझसे चुदवाने लगी। गांड गोल गोल घुमा घुमा कर मेरा मोटा लंड अपनी चूत में लेने लगी।

मेरी सास वही खड़े होकर अपने छोटी बेटी को चुदते हुए देखने लगी और मैं जोर जोर से उसके चूत में अपना लंड पेलने लगा। करीब दस मिनट की ताबड़ तोड़ चुदाई से वो पस्त हो गयी। और वो निढाल हो गयी. मेरा सारा वीर्य तेजी से पिचकारी के तरफ निकला और सारा का सारा वीर्य उसकी चूत में छोड़ दिया।

हम तीनो वह से घर के तरफ चल दिए। अभी भी मेरी सास गलियां देते हुए घर तक आई। फिर एक दो घंटे में भी सब कुछ नार्मल हो गया। मेरी सास बोली ले जाओ इसे दिल्ली ताकि इसकी चूत की गर्मी शांत हो जाये। यहाँ रहेगी तो कांड करेगी।

दूसरे दिन मैं अपने साली और सास को लेकर दिल्ली आ गया। अब तो साली के साथ साथ सास को भी चोदता हूँ। हम तीनो ही बहुत खुश हैं। मुझे ज़रा भी गम नहीं है की मेरी बीवी भाग गयी। मुझे तो फायदे ही हुए है. अब दो दो की चुदाई करता हूँ और मजे से रहता हु. मैं अपनी दूसरी कहानी जल्द ही नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर लिखुगा। आप रोजाना हॉट और सेक्सी कहानी के लिए पधारें इस वेबसाइट पर।

#सस #क #समन #ह #छट #सल #क #पटक #कर #चद #Sex #Story #सकस #कहन

सास के सामने ही छोटी साली को पटक कर चोदा, Sex Story, सेक्स कहानी

Return back to Adult sex stories, Desi Chudai sex stories, hindi Sex Stories, Indian sex stories, रिश्तों में चुदाई, हिंदी सेक्स स्टोरी

Return back to Home

Leave a Reply