पति के दिल पे राज करने की कहानी

हेल्लो दोस्तों आज की कहानी आप सभी लड़कियों के लिए है जो अपने पति को बस में रखना चाहती है वो सब आप सभी पाठको को न्यू हिंदी सेक्स कहानी द्वारा आप तक पंहुचा रहे है ये कहानी मेरी एक फ्रेंड की जो की दिखने में एक दम पटाका हे और एक दम गोरी चिट्टी नारी हे. ये स्टोरी उसने जब बताई तो में भी सुनकर बहुत खुश हुई क्युकी जो उसने बताया हर लड़की को वेसे ही करना चाहिए जिससे उनके हसबंड की नजर बाहर किसी और पर न पड़े. दोस्तों,चलो आपको उसकी कहानी उसकी ही जुबानी सुनाती हूँ.

मेरा नाम वैष्णवी हे, और में 26 साल की एक शादीशुदा लड़की हूँ. और वेस्ट बंगाल में अपने पति के साथ रहती हूँ. में दिखने में एक दम गोरी चिट्टी हूँ. मस्त फिगर वाली हूँ. मेरा फिगर -२८-३२ हें जिसको देख सब पागल हो कर अपने लौड़ो की मुठ मरते फिरते हे. दोस्तों आज में आपको अपने पति और मेरे बीच की सेक्सी स्टोरी का एक पार्ट बताउंगी.

हमारी शादी को अभी कुछ ही टाइम हुआ हे मतलब कुछ ही साल हुए हे. में अपने पति से बहुत प्यार करती हूँ. इसलिए उन्के लिए बहुत कुछ नया सीखती रहती हूँ. हाल में ही मेने उन्हें अपने हाथो का बना एक स्वेटर दिया. जिसको देख वो बहुत खुश हुए.

दोस्तों पता हे मेरे पति मुझसे बहुत प्यार करते हे और एक पल के लिए भी अकेला छोड़ नहीं सकते और में भी उन्हें सेटिस्फाय करने की पूरी कोशीश करती रहती हूँ. जिससे उनका ध्यान सिर्फ मेरे ऊपर ही रहता हे. और किसी लड़की पर उनका ध्यान क्या उनकी आँख भी ना जाए.

वेसे मेरे पति मुझसे बहुत प्यार करते हे और बहुत ख़याल भी रखते हे. उन्के लिए में एक हिरा हूँ क्युकी इतनी खुबसूरत बीवी और इतना प्यार करने वाली बीवी इन्हें कभी आज तक नहीं मिल सकती. एक बात में और बता दू की जब मुझे प्यार करते हे तो खुद को इनसे छुड़वाना बहुत मुश्किल हो जाता हे.

एक दिन की बात हे में और मेरे पति शाम को घर पर बोर हो रहे थे इसलिए हमने मूवी देखने का प्लान बनाया और शाम की ७ बजे की टिकेट बुक करके घर से ६ बजे निकल लिए. और टाइम से मूवी देखने पहोंच गए. मूवी स्टार्ट हो गयी हम मूवी देख रहे थे. तभी एक सिन आया जिसमे हिरोइन व्हाइट कलर की ट्रांसपेरेंट सारी में थी और वो भी बारिश में पूरी तरह से भीगी हुई थी जिससे उसका शारा शरीर साफ़ साफ़ दिख रहा था. उसे देख कर मेरे पति का मुह खुला का खुला रह गया और उन्के मुह से मस्ती में भरी आःह्ह निकली.

वेसे में भी दिखने में कम सेक्सी नहीं हूँ. जब मेरे पति मेरे साथ होते हे तो वो पूरा टाइम मुझे चाटते और चुमते ही रहते हे. उन्हें मेरा पूरा जिस्म चाटने में बहुत मजा आता हे. मेरे जिस्म का कोई एसा हिस्सा नहीं हे जो मेरे पति ने अपनी जिब से चाटा न हो.

जब वो मुझे देखते हे तो वो कहते हे की भला इतनी सुन्दर और खुबसूरत कोई लेडी केसे हो सकते हे. मेरे पति को मुझे नंगा देखने में बहुत मजा आता हे. अक्सर एसा होता हे जिस दिन वो घर पर होते हे तो वो मुझे पूरा नंगा कर देते हे पूरा दिन मुझे नंगे होकर घर का सारा काम करना पड़ता हे और मेरे पति पुरे दिन मेरे नंगे शरीर को देखते ही रहते हे उन्हें मेरे नंगे जिस्म से बहुत प्यार हे.

चलो ये बात को यही ख़तम करते हुए में आपको अपनी कहानी आगे बताती हूँ. मुझे तब बहुत गुस्सा आया जब मेरे पति ने मूवी की हिरोइन को देखते हुए अपना मुह खोला.

तभी में सोच लिया था की इनकी आह्ह्ह तो अब अच्छे से निकलवाऊगी वरना मेरा नाम भी वैष्णवी नहीं.

हम घर वापिस आ गए रात काफी हो चुकी थी हम दोनों ने डिनर कर लिया और सोने के लिए बेडरूम में चले गए. हम दोनों ने अपने कपड़े चेंज किये और सोने की तैयारी करने लग गए.

में जानकर एक वाइट कलर की नाइटी पहनी और अन्दर डार्क पिंक कलर की ब्रा पेहेंन ली जो की नाइटी में से साफ़ दिख रही थी. फिर में बाथरूम में गयी और मेने अपनी पूरी नाइटी को गिला कर लिया और मेरी पूरी नाइटी मेरे पुरे जिस्म से चिपक गयी थी और उसमे से पानी की बूंदे निचे गिर रही थी.

जब में बाथरूम से बाहर आई तो मेरे पति मुझे अपनी दोनों आँखे फाड़ कर देखने लग गए उनका मुह खुला का खुला रह गया और वो बोली –ओह माय गोड यू लूकिंग सो सेक्सी माय स्वीट हार्ट. मेरी जान तुम हो उस मूवी वाली हिरोइन से भी कही ज्यादा सेक्सी लग रही हो अगर में सच कहूँ तो इस दुनिया में तुम से ज्यादा सेक्सी कोई और ;लेडी नहीं हो सकती. ये तो मेरा लक हे की मुझे एक सेक्सी परी मिल गयी.

उनकी बात सुनकर में मुस्कुराई और वापिस से बाथरूम में जाने लगी तभी मेरे पति मेरे पीछे भागते हुए आये और मुझे पीछे से पकड़ने लग गए पर तब तक में बाथरूम में घुस चुक्की थी और मेने डोर अन्दर से लौक कर लिया था.

मेरे पति बहार खड़े डोर पर झोर झोर से हाथ ,मारते हुए बोले-मेरी जान वैष्णवी प्लीज् तुम बहार आओ तुम्हे अच्छे से देखना हे और बहुत प्यार करना हे. प्लीज् बहार आओ वरना में पागल हो जाऊँगा.

मेने डोर ओपन किया और बहार आ गयी अब तो मेरे पति की दोनों आँखे बहार आ गयी थी क्युकी अब में सिर्फ गीली नाइटी में थी. मेने अपनी ब्रा और पेंटी उतार दी थी. मेने ट्रांस्परांत वाइट कलर की पूरी पानी से भीगी हुई नाइटी पहनी हुई थी. .

अब मेरे दोनों बूब्स के निपल साफ़ साफ़ दिख रहे थे मेरे हलके ब्राउन कलर के निप्पल खड़े हुए थे इस लिए वो अलग ही चमक रहे थे, और तो और मेरी नाइटी गीली होने के कारन मेरे आगे पीछे से पूरी तरह से चिपकी हुई थी.

मेरे पति मनो पुरे पागल ही हो गए थे मुझे देख कर. उन्होंने मुझे दिवार पर लगा लिया और अपनी बाहों में मुझे बुरी तरह से झकड़ लिया. और मेरे गुलाबी होठो को बुरी तरह से चूसने लग गए. मुझे आज पहली बार महसूस हुआ की मेरे पति आज मुझे खा ही जायेंगे. फिर उन्होंने मुझे उठाकर बेड पर पटक दिया.

मेरे पति आज इस तरह से पागल हो चुके थे की उन्होंने आज मेरी नाइटी उतारी भी नहीं और मेरी पूरी नाइटी अपने हाथो से फाड़ दी. और मुझे इसे घुर घुर कर देखने लगे जेसे कोई शेर अपने शिकार को देखता हे.

मेरे पति मेरे ऊपर थे और में उन्के निचे तभी मेने उन्हें एक झोर से धक्का मारा और अपने निचे कर लिया अब हाल ये था की में उन्के ऊपर थी और वो मेरे निचे.

मेने उन्के ऊपर आते ही उनको चुसना सुरु कर दिया और उन्के होठो को मुह में भर कर किस करने लग गई. मुझे उन्के होठो को चुसना बहुत अच्छा लगता हे. में उनको किस करती रही और अपने एक हाथ से उनके लंड को पकड़ कर ऊपर निचे करने लग गयी. उनका ७ इंच लम्बा लंड मेरे हाथ में आते ही उछलकर लम्बा और कड़क हो गया.

अब में उन्के लंड को हाथो से ऊपर निचे करती रही और उनको चुस्ती रही. मेरे पति आह्ह्हह्ह आह्ह्ह जेसी धीमी आवाजे निकालने लग गए. क्युकी उन्हें बहुत मजा आ रहा था.

अब में निचे हुई और अपने पति के प्यारे लंड को हाथो में पकड कर अपनी जीभ से उसके ऊपर निचे करने लगी. मुझे इसे ऐसे करने में बहुत मजा आता हे. और उन्हें इसे महसूस करने में.

अब में उन्के बॉल्स को मुह में भर कर चूसने लग गयी और वो मस्ती में आह्ह्हह्ह आआअह्ह्ह्ह करने लग गए. और मेरे बूब्स को हाथ में पकड कर झोर झोर से मसलने लग गए. जिससे मुझे भी दर्द हो और में भी दर्द महसूस कर रही थी .

अब मेने उनका लंड पूरा मुह में भर लिया और झोर झोर से ऊपर निचे करने लग गयी. वो भी मेरे निप्पल को उंगलियों में भर कर रगड़ ने लग गए.

में ० मिनट इसे ही करती रही और फिर मेरे पति ने मुझे खीच कर अपने निचे कर लिया और मेने उन्के निचे आ गयी.

उन्होंने मुझे निचे लिया और मुझे बाहों में कास कर होठो में होठ डाल कर चूसने लग गए. में मदहोश होती चली गयी. उनका लंड मेरी चूत के ऊपर रगड़ खा रहा था जिससे मेरी चूत पागल हुए जा रही थी.

अब वो मेरे उपर आकर मेरे बूब्स को मुह में भर कर चूसने लग गए जिससे मेरे अन्दर एक बिजली सी दौड़ पड़ी. वो मेरे बूब्स इसे खा रहे थे जेसे की मेरा दूध उन्होंने अभी पिन हो. वो लगातार चूसते रहे. मेरे निप्पल को मुह में भर कर दांत से काटते रहे और में मजे से झोर झोर से आह्ह्ह्ह आःह्ह्ह करती रही.

मेरे निप्पल एक दम लाल हो गए जेसे के दूध अभी निकल कर बहार आ जाएगा. फिर उन्होंने चूसते चूसते मुझेसे कहा वैष्णवी अब नहीं रहा जा रहा. ,अपनी टाँगे ऊपर उठा लो मुझे अब चूत चोद्नी हे.

में उनकी ये बात सुनी और अपनी टाँगे ऊपर उठा ली. मेरी टाँगे उपर उठते ही उन्होंने मेरी चूत पर अपना मुह रख्खा और जीभ से चाटने लग गए.

मेरे मुह से लम्बी लम्बी सिस्कारिया निकलने लग गयी जिसे सुनकर उनसे बरदास नहीं हुई और उन्होंने अपना लंड मेरी चूत पर सेट किया और झोरदार धक्का मारा.

धक्का लगते हि मेरे मुह से चीख निकल गयी. तभी उन्होंने मेरे हाथो को अपने हाथो में दाल लिया और लगातार चोदते रहे. मुझे बहुत मजा आ रहा था इस लिए मेने भी उन्हें नहीं रोका और उनका साथ देने लग गयी.

करीब १० मिनट बाद हम दोनों एक दम से पुरे गरम हो गए और अपना पानी निकाल दिया और एक दुसरे को पप्पी जप्पी कर के सो गए.

#पत #क #दल #प #रज #करन #क #कहन

पति के दिल पे राज करने की कहानी

Return back to Adult sex stories, hindi Sex Stories, Indian sex stories, Popular Sex Stories, Top Collection, रिश्तों में चुदाई, हिंदी सेक्स स्टोरी

Return back to Home

Leave a Reply